रूस को पीछे छोड़ा, जहां 10 दिन में कोरोना के 67,634 मरीज बढ़े; भारत में इस दौरान 2 लाख से ज्यादा केस आए

  • रूस में अब तक 6 लाख 81 हजार 251 संक्रमित मिल चुके, इनमें 4 लाख 50 हजार 750 मरीज ठीक हो चुके
  • भारत में अब तक 6 लाख 95 हजार 396 संक्रमित मिल चुके, इनमें 4 लाख 09 हजार 083 मरीज ठीक हो चुके

दैनिक भास्कर

Jul 05, 2020, 10:06 PM IST

नई दिल्ली. भारत में कोरोनावायरस के मामले रविवार को रूस से ज्यादा हो गए। यहां 6 लाख 95 हजार 396 मरीज हो गए, जबकि रूस में 6 लाख 81 हजार 251 मरीज हैं। इसके साथ ही भारत दुनिया में तीसरा सबसे संक्रमित देश हो गया है। पिछले 10 दिन के आंकड़े देखें तो भारत में मामले काफी तेजी से बढ़े हैं। रूस में जहां 67 हजार 634 केस मिले जबकि भारत में 2 लाख 919 मामले सामने आए।

भारत में 6.95 लाख केस होने में 158 दिन लगे। भारत में रोजाना औसतन 22 हजार से ज्यादा नए मरीज मिल रहे हैं। भारत में जून में 3 लाख 87 हजार 425 मामले सामने आए। यहां 21 जून के बाद से हर दिन 15 हजार से ज्यादा मामले मिल रहे हैं। वहीं, हर दिन सामने आने वाले मामलों में 4 जुलाई को यहां सबसे ज्यादा 24 हजार 18 मरीज मिले। 

रूस में सबसे ज्यादा मामले मई में
रूस में संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले मई में मिले। इस महीने यहां सबसे ज्यादा 2 लाख 91 हजार 412 केस की पुष्टि हुई। हर दिन सामने आने वाले मामलों में यहां 11 मई को सबसे ज्यादा 11 हजार 656 केस मिले।

भारत में 110 दिन में 1 लाख मामले
भारत में संक्रमण का पहला मामला 30 जनवरी को सामने आया था। इसके 110 दिन बाद यानी 10 मई को यह संख्या बढ़कर एक लाख हुई। इसके बाद मामले तेजी से बढ़ने लगे। महज 15 दिनों में ही आंकड़ा 2 लाख के पार हो गया। इसके बाद संक्रमितों की संख्या 2 से बढ़कर 3 लाख होने में महज 10 लगे। 3 से 4 लाख मामले होने में 8 दिन और अब 4 से 5 लाख मामले होने में केवल 6 दिन लगे। वहीं, 5 से 6 लाख होने में 5 दिन लगे। 

रूस में 91 दिन में 1 लाख मामले
रूस में संक्रमण का पहला मामला 31 जनवरी को सामने आया। इसके 91 दिन के बाद यानी 30 अप्रैल को यहां मरीजों की संख्या 1 लाख के पार हुई। इसके बाद, महज 11 दिन यानी 10 मई को संक्रमितों की संख्या 2 लाख हो गई। वहीं, अगले 10 दिन यानी 20 मई को तीन लाख से ज्यादा हो गए। वहीं, 3 से 4 लाख केस होने में 11 दिन (31 मई) लगे और 4 से 5 लाख होने में 12 दिन लग गए। वहीं, 5 से 6 लाख होने में 14 दिन लगे।

यह भी पढ़ें

1. शुरुआती 125 दिन में संक्रमितों की संख्या दो लाख हुई थी; जून के 24 दिनों में तीन लाख नए केस बढ़े, 4 से 5 लाख मामले होने में बस 6 दिन लगे

2. महज 5 दिन में केस पांच से छह लाख हो गए; यह 1 लाख मामले बढ़ने की सबसे तेज रफ्तार; शुरुआती एक लाख मामले होने में 110 दिन लगे थे

3. सिर्फ 8 दिन में एक लाख मरीज बढ़े; शुरुआती एक लाख केस 110 दिन में सामने आए थे, आधे से ज्यादा मरीज ठीक भी हुए

4. कोरोना के केस 2 लाख से 3 लाख होने में सबसे कम 10 दिन लगे, शुरुआती 1 लाख मामले 110 दिन में सामने आए थे

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: