Airline Travel Guidelines | Domestic Flights India Resume Date 25th May News Update; Airport Authority of India(AAI) SOPs For Domestic Flights Resumption | वेब चेक-इन के बाद एयरपोर्ट पर एंट्री मिलेगी, फ्लाइट में खाना नहीं मिलेगा; पढ़ें एंट्री से एग्जिट तक आपको क्या-क्या करना होगा

  • एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया और नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी कीं
  • उड्डयन मंत्री ने बताया कि शुरुआत में एक तिहाई उड़ानें शुरू की जाएंगी
  • कोरोनावायरस की वजह से देश में घरेलू उड़ानें 25 मार्च से बंद हैं

दैनिक भास्कर

May 21, 2020, 05:39 PM IST

नई दिल्ली. नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को कहा कि 25 मई से कुछ डोमेस्टिक फ्लाइट शुरू हो जाएंगी। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) ने आज पैसेंजर और एयरपोर्ट ऑपरेटर्स के लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) भी जारी कर दिया है। 14 साल तक के बच्चों को छोड़ बाकी सभी यात्रियों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना जरूरी होगा। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने भी गाइडलाइन जारी की हैं। उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि शुरुआत में एक तिहाई उड़ानें ही शुरू की जाएंगी। एक बार शुरुआत करने के बाद 4-5 दिन देखेंगे, हालात सही लगे तो 10-15 फीसदी और बढ़ा देंगे। घर से रवाना होने से लेकर एयरपोर्ट पर एंट्री और एग्जिट तक की गाइडलाइंस को इस तरह समझिए-

घर से एयरपोर्ट तक

  • पब्लिक ट्रांसपोर्ट, प्राइवेट टैक्सी, पर्सनल व्हीकल का इस्तेमाल कर सकेंगे।
  • फ्लाइट से कम से कम 2 घंटे पहले पहुंचें।
  • फिजिकल चेक-इन नहीं कर पाएंगे। जो पहले से वेब चेक-इन करके आएंगे, उन्हें ही एंट्री मिलेगी।
  • बैगेज टैग/आइडेंटिफिकेशन नंबर भी डाउनलोड करना होगा। उसका प्रिंट लेना होगा। उसे बैग पर चिपकाना होगा।
  • प्रिंट नहीं ले पा रहे हैं तो मोटे कागज पर पीएनआर नंबर लिखें, उसे बैग पर रस्सी से बांध दें।

एयरपोर्ट पर एंट्री से पहले ध्यान रखें

  • मास्क-ग्लव्ज के बिना एंट्री नहीं मिलेगी।
  • 14 साल तक के बच्चों को छोड़कर सभी को आरोग्य सेतु ऐप रखना होगा।
  • ऐप में रेड स्टेटस हुआ तो एंट्री नहीं मिलेगी।
  • ऐप सपोर्टिंग फोन नहीं है तो कोरोना के लक्षण नहीं होने का सेल्फ डिक्लेरेशन दे सकेंगे।
  • फ्लाइट में 4 घंटे से भी ज्यादा वक्त बाकी है तो एंट्री नहीं मिलेगी।
  • सिर्फ एक चेक-इन बैग और एक केबिन बैग की इजाजत होगी।
  • सरकार की सलाह- बुजुर्ग, गर्भवती महिलाएं, पहले से बीमार लोग और कंटेनमेंट जोन में रहने वाले हवाई सफर न करें।

टर्मिनल बिल्डिंग

  • टर्मिनल बिल्डिंग में एंट्री से पहले ही एक तय जगह पर थर्मल स्क्रीनिंग जोन से गुजरना होगा।
  • जूते-चप्पलों को डिसइन्फेक्ट करने के लिए एंट्रेस पर ब्लीच में भीगे मैट या कारपेट रखे जाएंगे।
  • डिपार्चर और अराइवल एरिया में ट्रॉली नहीं मिलेगी। जिन्हें वाकई जरूरत है, उन्हें मांगने पर सैनिटाइज की हुई ट्रॉली दी जाएगी।
  • जरूरतमंदों को पहले से सैनिटाइज की हुई व्हील-चेयर मिलेगी।
  • टर्मिनल बिल्डिंग या लाउंज में न्यूजपेपर या मैग्जीन नहीं मिलेगी।

बैगेज

  • बैगेज को सैनिटाइज किया जाएगा। इसकी जिम्मेदारी एयरपोर्ट अथॉरिटी की होगी।
  • एंट्री मिलने के बाद कम से कम 60 मिनट में बैगेज ड्रॉप और चेक इन फॉर्मेलिटी पूरी करनी होगी।
  • ट्राॅली का इस्तेमाल टालें। पीएनआर दिखाएं और बैगेज ड्रॉप करें। बैगेज ड्रॉप करने पर ई-रिसीप्ट मिलेगी।

बोर्डिंग पास

  • बोर्डिंग पास तभी जारी होगा, जब यात्री यह डिक्लेरेशन देंगे
  • मैं कंटेनमेंट जोन में नहीं रहता।
  • मुझे बुखार/खांसी/सांस की दिक्कत नहीं है।
  • मुझे क्वारैंटाइन में नहीं रखा गया था।
  • अगर मुझे ये सिम्पटम दिखेंगे तो मैं हेल्थ अथॉरिटी को बताऊंगा।
  • मैं कोरोना पॉजिटिव नहीं पाया गया।
  • मैं नियमों के मुताबिक ट्रेवल करने के लिए एलिजिबल हूं।
  • एयरलाइंस के मांगने पर मैं अपना फोन नंबर/कॉन्टैक्ट डिटेल्स देने के लिए तैयार हूं।
  • मैं जानता हूं कि अगर मैं ऊपर बताए पैमानों को पूरा किए बिना यात्रा कर रहा हूं तो मुझ पर कार्रवाई होगी।

(एक पीएनआर पर एक से ज्यादा यात्री हैं तो माना जाएगा कि डिक्लेरेशन सभी की तरफ से है)

सिक्युरिटी होल्ड एरिया

  • सोशल डिस्टेंसिंग के लिए कुर्सियों पर लिखा मिलेगा- नॉट फॉर यूज। इसका पालन करें।
  • फूड आउटलेट पर भीड़ न हो, इसके लिए यात्रियों को पार्सल लेने को कहा जाएगा।
  • डिजिटल पेमेंट पर जोर रहेगा। सेल्फ ऑर्डर बूथ बनाए जाएंगे।
  • अगर मास्क, ग्लव्ज फेंकने हैं तो पीले रंग के डिब्बों में ही उसे फेंकना होगा।

बोर्डिंग

  • सिटिंग एरिया में लोग जिस तरह बैठे होंगे, उसी ऑर्डर में लोगों को बोर्डिंग गेट पर बुलाया जाएगा।
  • एयरक्राफ्ट के अंदर बैच में लोगों को एंट्री मिलेगी, ताकि यात्री एक-दूसरे से न टकराएं।
  • यात्रियों के लिए मास्क और सैनिटाइजर के इंतजाम एयरलाइन को करने होंगे।
  • केबिन क्रू फुल प्रोटेक्टिव सूट में होगा।
  • फ्लाइट में खाना नहीं दिया जाए। यात्री अपना खाना भी नहीं ले जा सकेंगे।
  • पानी की बोतल सीट पर ही मिल जाएगी।
  • टाॅयलेट के बाहर कतार नहीं लगा सकेंगे।
  • अखबार-मैगजीन नहीं मिलेगी।

अराइवल

  • यात्री प्लेन से बाहर भी बैच में ही आएंगे। इकट्‌ठे सभी बाहर नहीं आ सकेंगे।
  • जो यात्री ट्रांजिट में हैं, उन्हें ट्रांजिट एरिया से बाहर जाने की इजाजत नहीं हाेगी।
  • बैगेज यात्रियों को लौटाने से पहले सैनिटाइज किया जाएगा। कन्वेयर बेल्ट के पास सोशल डिस्टेंसिंग रखनी होगी।
  • टर्मिनल बिल्डिंग के अंदर एक आइसोलेशन एरिया हाेगा। किसी यात्री में कोरोना के लक्षण नजर आए तो उसे वहां ले जाया जाएगा।
  • एयरपोर्ट अथॉरिटी की तरफ से ऑथोराइज्ड कैब ही ले सकेंगे।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: