Congress Leaders Detained For Distributing Food To Laborers, Bjp Bid – Rahul Gandhi Doing Politics – मजदूरों को खाना बांटने पर कांग्रेस नेता हिरासत में, भाजपा बोली- राजनीति कर रहे राहुल गांधी

ख़बर सुनें

भूखे मजदूरों को भोजन कराने के दौरान कथित तौर पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन न करने के आरोप में दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार को रविवार सुबह हिरासत में ले लिया गया है।

न्यू अशोक नगर थाना पुलिस ने रविवार सुबह 7:30 बजे पू्र्वी दिल्ली स्थित उनके आवास पर पहुंचकर उनको हिरासत में लिए जाने की जानकारी दी। इसके बाद से वे अपने आवास पर ही हैं।

कांग्रेस नेता का आरोप है कि यह केवल कांग्रेस को डरा-धमकाकर मजदूरों का मुद्दा उठाने से रोकने की कोशिश की जा रही है। ध्यान रहे कि शनिवार को राहुल गांधी ने पलायन कर रहे गरीब मजदूरों से मिलने के लिए पहुंचे थे। चौधरी अनिल कुमार की हिरासत को इस मुद्दे से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

चौधरी अनिल कुमार ने कहा है कि उन्हें किस आरोप में हिरासत में लिया गया है, उन्हें इसकी कोई जानकारी नहीं दी जा रही है और न ही इससे संबंधित कोई ऑर्डर उन्हें दिखाया गया है। दिल्ली पुलिस के किसी भी अधिकारी ने इस विषय पर कोई टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है।

अपनी हिरासत के बाद चौधरी अनिल कुमार ने अमर उजाला डॉट कॉम से विशेष बातचीत के दौरान कहा कि वे रात को दो से तीन बजे तक दिल्ली के अनेक बॉर्डर पर गए थे। इस दौरान उन्होंने हजारों गरीब मजदूरों को भोजन मुहैया कराया था।

इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पूरी तरह से पालन किया गया था। उनके कार्यकर्ता मास्क लगाकर पूरी सुरक्षा के साथ गरीब श्रमिकों को राशन उपलब्ध करा रहे थे। इस दौरान किसी भी नियम का उल्लंघन नहीं किया गया।

कांग्रेस नेता ने कहा कि उनका दिल्ली प्रदेश ऑफिस, पार्टी के केंद्रीय कार्यालय और यूथ कांग्रेस के कार्यालयों पर लगातार गरीब श्रमिकों को भोजन मुहैया करा रहा है। गरीबों को रुकने के लिए आवास मुहैया कराया जा रहा है और उन्हें उनके गृहराज्यों में भेजने के लिए पूरी व्यवस्था की जा रही है। गरीबों का किराया भी कांग्रेस पार्टी चुका रही है।

उन्होंने कहा कि जो काम केंद्र और राज्य सरकार को करना चाहिए, वह काम कांग्रेस पार्टी विपक्ष में होते हुए कर रही है। स्वयं राहुल गांधी भी सड़कों पर उतरकर मजदूरों के बीच पहुंचकर उनका हालचाल ले रहे हैं और उनका दुख साझा कर रहे हैं।

लेकिन सरकार अपनी जिम्मेदारी निभाने की बजाय उन्हें डराने की कोशिश कर रही है, लेकिन कांग्रेस सरकार के इस रवैये से रुकने वाली नहीं है और वे अपना जनहित का काम करते रहेंगे।

राजनीति कर रही कांग्रेस

वहीं, दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता नवीन कुमार ने कहा कि कांग्रेस इस मामले में सिर्फ राजनीति कर रही है। राहुल गांधी मजदूरों के बीच पहुंचकर केवल उन्हें भड़काने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे देश के 70 फीसदी मजदूर दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता के चार महानगरों में काम करने के लिए जाते हैं।

लेकिन इन्हीं चार महानगरों में मजदूरों को जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। उन्हें भोजन नहीं दिया जा रहा है जिससे वे अपनी जगहों पर आराम से रह सकें।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस गरीबों का किराया देने का नाटक कर रही है, जबकि उसी की राज्य सरकारें मजदूरों से किराया वसूल कर रही हैं। इससे साफ होता है कि यह केवल नरेंद्र मोदी सरकार को बदनाम करने की साजिश की जा रही है।

सार

  • दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार पुलिस की हिरासत में,
  • सोशल डिस्टेंसिंग का नियम न मानने का आरोप
  • भाजपा ने कहा- मजदूरों को भड़का रहे कांग्रेस के नेता, कर रहे राजनीति

विस्तार

भूखे मजदूरों को भोजन कराने के दौरान कथित तौर पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन न करने के आरोप में दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार को रविवार सुबह हिरासत में ले लिया गया है।

न्यू अशोक नगर थाना पुलिस ने रविवार सुबह 7:30 बजे पू्र्वी दिल्ली स्थित उनके आवास पर पहुंचकर उनको हिरासत में लिए जाने की जानकारी दी। इसके बाद से वे अपने आवास पर ही हैं।

कांग्रेस नेता का आरोप है कि यह केवल कांग्रेस को डरा-धमकाकर मजदूरों का मुद्दा उठाने से रोकने की कोशिश की जा रही है। ध्यान रहे कि शनिवार को राहुल गांधी ने पलायन कर रहे गरीब मजदूरों से मिलने के लिए पहुंचे थे। चौधरी अनिल कुमार की हिरासत को इस मुद्दे से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

चौधरी अनिल कुमार ने कहा है कि उन्हें किस आरोप में हिरासत में लिया गया है, उन्हें इसकी कोई जानकारी नहीं दी जा रही है और न ही इससे संबंधित कोई ऑर्डर उन्हें दिखाया गया है। दिल्ली पुलिस के किसी भी अधिकारी ने इस विषय पर कोई टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है।

अपनी हिरासत के बाद चौधरी अनिल कुमार ने अमर उजाला डॉट कॉम से विशेष बातचीत के दौरान कहा कि वे रात को दो से तीन बजे तक दिल्ली के अनेक बॉर्डर पर गए थे। इस दौरान उन्होंने हजारों गरीब मजदूरों को भोजन मुहैया कराया था।


इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पूरी तरह से पालन किया गया था। उनके कार्यकर्ता मास्क लगाकर पूरी सुरक्षा के साथ गरीब श्रमिकों को राशन उपलब्ध करा रहे थे। इस दौरान किसी भी नियम का उल्लंघन नहीं किया गया।

कांग्रेस नेता ने कहा कि उनका दिल्ली प्रदेश ऑफिस, पार्टी के केंद्रीय कार्यालय और यूथ कांग्रेस के कार्यालयों पर लगातार गरीब श्रमिकों को भोजन मुहैया करा रहा है। गरीबों को रुकने के लिए आवास मुहैया कराया जा रहा है और उन्हें उनके गृहराज्यों में भेजने के लिए पूरी व्यवस्था की जा रही है। गरीबों का किराया भी कांग्रेस पार्टी चुका रही है।

उन्होंने कहा कि जो काम केंद्र और राज्य सरकार को करना चाहिए, वह काम कांग्रेस पार्टी विपक्ष में होते हुए कर रही है। स्वयं राहुल गांधी भी सड़कों पर उतरकर मजदूरों के बीच पहुंचकर उनका हालचाल ले रहे हैं और उनका दुख साझा कर रहे हैं।

लेकिन सरकार अपनी जिम्मेदारी निभाने की बजाय उन्हें डराने की कोशिश कर रही है, लेकिन कांग्रेस सरकार के इस रवैये से रुकने वाली नहीं है और वे अपना जनहित का काम करते रहेंगे।

राजनीति कर रही कांग्रेस

वहीं, दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता नवीन कुमार ने कहा कि कांग्रेस इस मामले में सिर्फ राजनीति कर रही है। राहुल गांधी मजदूरों के बीच पहुंचकर केवल उन्हें भड़काने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे देश के 70 फीसदी मजदूर दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता के चार महानगरों में काम करने के लिए जाते हैं।

लेकिन इन्हीं चार महानगरों में मजदूरों को जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। उन्हें भोजन नहीं दिया जा रहा है जिससे वे अपनी जगहों पर आराम से रह सकें।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस गरीबों का किराया देने का नाटक कर रही है, जबकि उसी की राज्य सरकारें मजदूरों से किराया वसूल कर रही हैं। इससे साफ होता है कि यह केवल नरेंद्र मोदी सरकार को बदनाम करने की साजिश की जा रही है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: